Search

पैन कार्ड के बारे मे पूरी जानकारी हिन्दी मे pan card ka use kya hai

Updated: Jan 1

पैन कार्ड क्या है? what is pan card?

सरकार के द्वारा जारी किया गया एक विशिष्ट पहचान पत्र Pan card है , यह सभी प्रकार के financial transaction अर्थात रुपये – पैसे में बहुत ही जरुरी होता है। यह आयकर विभाग (Income Tax )द्वारा प्रमाणित होता है जिस तरह आधार कार्ड, वोटर कार्ड, राशन कार्ड पहचान प्रूफ है उसी प्रकार pan card इनकम टैक्स और बड़े बैंकिंग लेनदेन के अलावा एक पहचान प्रूफ भी है pan card में 10 अंक का alphanumeric अंक होता है जो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट अर्थात आयकर विभाग द्वारा निर्धारित किया जाता है।

Pan card का फुल फॉर्म PERMANENT ACCOUNT NUMBER (स्थायी खाता संख्या) होता है ?

पैन कार्ड भी Debit card (ATM), credit card के साइज का ही होता है । पैन कार्ड के ऊपर नाम, पिता का नाम , जन्म-तिथि, photograph और signature रहता है ।

पैन कार्ड क्यो जरूरी है ?(pancard ka use kya hai )

पैन कार्ड के निम्नलिखित उपयोग हैबैंक में खाता खोलने में 50,000 के ऊपर के लेनदेन मेंइनकम टैक्स भरने मेंपहचान प्रूफ मेआयकर return में लोन लेने मेंलोन पर विभिन्न प्रकार की सब्सिडरी पाने में विदेशी लेनदेन मेंसरकारी योजनाओं के लाभ पाने मेंविभिन्न प्रकार के ऑनलाइन भुगतान में



PAN CARD बनाने के लिए जरूरी दस्तावेज क्या है

Pan card बनाने और बनवाने के लिए तीन प्रूफ जो इस प्रकार है पहचान प्रूफ (identity proof), पता प्रूफ (address proof) तथा जन्मतिथि के लिए जन्म प्रमाण पत्र (date of birth proof) की ज़रूरत पड़ेंगी।

अब Pan Card बनवाने के लिए पैन कार्ड Application Form में कुछ Important Documents भी लगाना बेहद जरुरी होता है, जिसके नहीं रहने के एवज में हम पैन card बनवाने से वंचित हो जाते है।

आपको बता दे की Pan Card के लिए कौन- कौन से महत्वपूर्ण Documents लगाना जरुरी है

1. Identity Proof (पहचान के तौर पर )

Identity Proof या पहचान के तौर पर राशन कार्ड, वोटर कार्ड , पासपोर्ट , ड्राइविंग लाइसेंस आदि दे सकते है,इन सारे Documents में से कोई एक Document लगाकर आप अपनी Identity Proof कर सकते है

2. Address Proof (पते हेतु प्रमाण)

Address अर्थात पता के Proof के लिए पासबुक, ड्राइविंग लाइसेंस,आधार कार्ड , वोटर कार्ड, बिजली बिल, पानी बिल, टेलीफोन बिल आदि लगा सकते है ।

3. Date Of Birth Proof (जन्म प्रमाण पत्र)

जन्म प्रमाण पत्र हेतु भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण द्वारा जारी आधार कार्ड या आपकी 10वीं या 12 वीं की Mark sheet या ओरिजिनल सर्टिफिकेट जिसमे की जन्म- तिथि अंकित हो भी लगा सकते है

Note:- आधार कार्ड का उपयोग तीनों वेरिफिकेशन अर्थात पहचान प्रूफ, एड्रेस प्रूफ और जन्म-तिथि में कर सकते है।

Pan कार्ड आवेदन के लिए किसी भी प्रकार का कोई भी उम्र सीमा का मापदंड निर्धारित नहीं है।

किसी भी उम्र का कोई भी आवेदक तभी pan card बनवाने के लिए तभी eligible माना जायेगा जब उसके पास सारी डाक्यूमेंट्स उपलब्ध होना चाहिये।

यदि बालक या बालिका 18 वर्ष के कम का ही क्यों न हो। सिर्फ उसके लिए ये कंडीशन है कि नाबालिग आवेदको को pan card बनवाने के लिए कुछ conditions का पालन करना पड़ता है।

पैन कार्ड के लिए शर्त ये है की नाबालिग बच्चे के पैन कार्ड आवेदन हेतु उनके माता-पिता आवेदन करेंगे।


Pan Card कितने दिन मे प्राप्त होता है?

पैन कार्ड घर तक पहुंचने में 15 से 20 दिन या कभी कभी महीने भर का समय भी लग सकता है।

लेकिन Electronic pan card पैन कार्ड जारी होते ही आवेदन के समय प्रयोग किया हुआ email id अर्थात रजिस्टर्ड email id पर भेज दिया जाता है जिसे की डाउनलोड कर उपयोग में लाया जा सकता है। पैन कार्ड डाउनलोड हो जाने के बाद उनको ओपन करने का काम होता है। जैसे ही पैन कार्ड ओपन करते है तो पासवर्ड माँगा जाता है।

उस डाउनलोड किया हुआ पैन कार्ड का पासवर्ड आवेदक द्वारा आवेदन फॉर्म में डाला गया date of birth (जन्मतिथि) ही रहता है । जिसका फॉर्मेट DDMMYYYY रहता है। डाउनलोड किया हुआ पैन कार्ड में जन्म तिथि DDMMYYYY फॉर्मेट में डालने से पैन कार्ड खुल जाती है।

माना कि आवेदक का जन्मतिथि 01 जनवरी 2000 है तो उनका DDMMYYYY फॉर्मेट इस प्रकार होगा 01012000 इसे क्रमशः दिन , महीना, वर्ष के फॉर्मेट में प्रयोग करें।

आशा है यह पोस्ट आपको पसंद आएगी पैन कार्ड संबंधित किसी भी जानकारी के लिए COMMENT करे

260 views